Ayurvedic College recognition: जानिए किन कॉलेजों की मान्यता हुई समाप्त?

Ayurvedic Collage recognition: आयुर्वेदिक कॉलेज में एडमिशन लेने जाने की सोचने वाले छात्रों के लिए एक बड़ी ख़बर है। नेशनल कमीशन फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ मेडिसिन (NCISM) ने 10 आयुर्वेदिक कॉलेजों की मान्यता स्थायी तौर पर समाप्त कर दी है, जबकि 32 कॉलेजों की मान्यता पर फिलहाल रोक लगा दी है। ये कॉलेज भी इस अकादमिक सैशन में आयुर्वेद पढ़ने जा रहे छात्रों का एडिमिशन नहीं ले सकेंगे।

नीचे लिस्ट में देखें किन कॉलेजों की हुई मान्यता समाप्त


दरअसल सरकार ने आयुष पद्यति के कॉलेजों में शिक्षा का स्तर बेहतर करने के लिए नेशनल कमीशन फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ मेडिसिन (NCISM) की स्थापना की नवंबर महीने में की थी, जोकि आयुष के कॉलेजों के शिक्षा के स्तर, करिकुलम को देखता है और कॉलेजों का मान्यता देता है। इस कमीशन ने चालू साल में छात्रों का एडिमिशन लेने के इच्छुक कॉलेजों से मान्यता के लिए आवेदन मांगे थे। इसमें करीब 383 कॉलेजों ने नए छात्रों को एडिमिशन के लिए सीट आवंटित करने और मान्यता के लिए कमीशन के पास आवेदन किया था। इसमें से कमीशन ने 10 कॉलेज की मान्यता को स्थायी तौर पर समाप्त कर दिया है। जबकि 32 कॉलेजों के आवेदन को अस्थायी तौर पर नामंजूर कर दिया है। जबकि 341 कॉलेजों को नए एडमिशन के लिए मंजूरी दे दी गई है।

कमीशन ने कॉलेज के इंफ्रा और फैकेलिटी के आधार पर नए एडमिशन के लिए आवेदन मंगाए थे। इनमें से कई कॉलेज की स्थिति बहुत ही खराब थी, ऐसे कॉलेजों को नए एडमिशन लेने पर रोक लगा दी गई है। जबकि कुछ कॉलेज के पास तो अपनी बिल्डिंग तक नहीं थी और ना ही क्लासरूम बच्चों को पढ़ाने लायक थे। ऐसे क़ॉलेज की मान्यता स्थायी रूप से खत्म कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.