Medical plants subsidy: औषधीय पौधों की उपलब्धता के लिए योजना

Medical plants subsidy: केंद्र सरकार ने आयुर्वेदिक दवाओं के लिए बेहतर औषधिय पौधों को बढ़ावा देने के लिए करीब 140 मेडिकल प्लांट को सहायता देने की योजना चलाई हुई है। राष्ट्रीय आयुष मिशन के तहत चलाई जा रही इस योजना में केंद्र सरकार राज्यों की मदद से किसानों कि औषधीय पौधों के बीज खरीदने, औषधीय पौधों की खेती करने, प्रोसेसिंग और मार्केटिंग में भी मदद करेगी।

ये भी पढ़ें

Uric Acid Food: यूरिक एसिड बढ़ने पर क्या ना खाएं

दरअसल देश में क्वालिटी औषधीय पौधों की उपलब्धता लगातार सिकुड़ रही है। इसको देखते हुए आयुष मंत्रालय ने नेशनल मेडिसनल प्लांट बोर्ड बनाया है। जोकि देश में औषधीय पौधों की खेती और उनकी गुणवत्ता पर काम कर रहा है। इसी के तहत ये 140 अति महत्वपूर्ण औषधीय पौधों पर सब्सिडी दी जा रही है।

आयुष मंत्रालय के मुताबिक, सरकार ने ऐसे 140 औषधीय पौधों की लिस्ट राज्यों को भेजी हुई है, जोकि इस योजना के तहत आती है। इस लिस्ट के जरिए किसान अपनी प्रति हैक्टेयर लागत के हिसाब से 30 से लेकर 75 प्रतिशत तक सब्सिडी ले सकते हैं

इसी तरह सरकार ने हर राज्य के लिहाज से करीब 20 औषधीय पौधों की लिस्ट भी राज्यों को तैयार करने के लिए कहा है। ताकि इन पौधों के विकास और इसके गुणों को लेकर लोगों में अवेयरनैस अभियान चलाया जा सके। फिलहाल कई राज्यों में ये योजना अच्छी प्रकार से चल रही है।

1 thought on “Medical plants subsidy: औषधीय पौधों की उपलब्धता के लिए योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.