Allopathy practice in Ayush: आयुर्वेद के डॉक्टर्स की एलोपैथी प्रेक्टिस राज्यों पर निर्भर

Allopathy practice in Ayush: केंद्र सरकार आयुर्वेदिक डॉक्टर स्कोर एलोपैथी प्रैक्टिस करने की इजाजत देने पर विचार नहीं कर रही है। आयुष मंत्रालय ने हाल ही में एक सवाल के जवाब में लोकसभा में बताया था, आयुर्वेदिक डॉक्टर के लिए एलोपैथी प्रैक्टिस के लिए किसी ब्रिज कोर्स की योजना नहीं बनाई जा रही है। मंत्रालय ने लोकसभा में एक जवाब में कहा कि हेल्थ सब्जेक्ट राज्यों के तहत आता है और अगर कोई राज्य आयुष डॉक्टर्स को एलोपैथी मेडिसिन के साथ इलाज करने की इजाजत देता है तो वह उस राज्य का विषय है। हालांकि इंडियन सिस्टम आफ मेडिसिन (ISM) की प्रैक्टिस करने वाले डॉक्टर सेक्शन 34 NCISM एक्ट के तहत प्रोटेक्टेड है। इससे पहले आयुर्वेदिक डॉक्टर को एलोपैथी की प्रैक्टिस करने को लेकर काफी हंगामा मचा था। इसके बाद सरकार का स्टैंड साफ हो गया था कि वह आयुर्वेदिक डॉक्टर स्कोर एलोपैथी के इलाज की इजाजत नहीं देंगे। हालांकि आयुर्वेदिक के कोर्स में अब तकनीक के इस्तेमाल की इजाजत जरूर दी जा रही है। इसमें एक्सरे और अन्य रिपोर्ट को आयुर्वेदिक प्रैक्टिस में शामिल किया गया है।

1 thought on “Allopathy practice in Ayush: आयुर्वेद के डॉक्टर्स की एलोपैथी प्रेक्टिस राज्यों पर निर्भर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.