Ayush Budget2022: आयुष मंत्रालय के बजट में ख़ासी बढ़ोतरी, रिसर्च पर सबसे ज्य़ादा ज़ोर

Ayush Budget2022: इस बार केंद्रीय बजट में आयुष मंत्रालय को 3050 करोड़ रुपये से ज्यादा का बजट आवंटित किया गया है। पिछले कुछ सालों में मोदी सरकार ने आयुष मंत्रालय को काफी महत्व दिया है। मोदी सरकार के आने के बाद आयुष को एक विभाग से एक मंत्रालय बना दिया गया और 2014 से लेकर अब तक इसका बजट कई गुना बढ़ चुका है।

पिछले 3 सालों में ही आयुष मंत्रालय का बजट ₹2100 करोड़ से बढ़कर 3050 करोड़ रुपये पहुंच गया है। इस 3050 करोड़ रुपये से ज्यादा के बजट में जहां सेंट्रल काउंसिल फॉर रिसर्च इन आयुर्वैदिक साइंसेज को 358 करोड़ रूपये का आवंटित हुए हैं। वही ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ आयुर्वेदा को 227 करोड रुपए का आवंटन हुआ है।

दूसरी ओर नेशनल मेडिसिनल प्लांट्स बोर्ड का बजट कुछ घटा दिया गया है, पिछले साल इस बोर्ड को लगभग ₹54 का आवंटन हुआ था, वहीं इस बार इसमें ₹10 करोड़ रुपये की कमी की गई है। इसी तरह होम्योपैथी कमीशन के बजट को भी करीब 7 करोड रुपए कम कर दिया गया है। दूसरी ओर मेडिसिनल प्लांट्स के लिए अलग से योजनाओं को लगभग ₹50 करोड़ रुपये का अलग से आवंटन किया गया है, जोकि सीधे मंत्रालय देखेगा।

हाल ही में गठित हुई नेशनल कमिशन फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ़ मेडिसिन को इस बार 22 करोड रुपए का आवंटन इस बजट में किया गया है। कुल मिलाकर कहा जाए तो आयुष सेक्टर के लिए यह बजट बहुत ही बेहतर है, जिसमें रिसर्च सेक्टर को सबसे ज्यादा तवज्जो दी गई है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.