Ayurveda is biggest in Ayush: आयुष की पद्धतियों में आयुर्वेद है सबसे बड़ा

oath taking ceremony of Ayurveda students

oath taking ceremony of Ayurveda students

Ayurveda is biggest in Ayush: देश में एलोपैथी के बाद आयुर्वेद ना सिर्फ सबसे लोकप्रिय पद्धति है, बल्कि आयुष की बाकी पद्धतियों के मुकाबले ये कई गुना ज्य़ादा बड़ी भी है। जहां देश में आयुष के कुल 3986 अस्पतालों में अकेले आयुर्वेद के ही 3186 अस्पताल हैं, वहीं एजुकेशन के मामले में भी आयुर्वेद की BAMS की डिग्री देने वाले कॉलेजों की संख्या सबसे बड़ी है।

आयुष मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक आयुष में सबसे बड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर, इसकी पढ़ाई और इलाज करने वालों का रूझान आयुर्वेद में हैं। देश में आयुष के तहत खोले गए कुल 717 मेडिकल कॉलेज में अकेले आयुर्वेद के ही 419 मेडिकल कॉलेज है। इसके बाद होम्योपैथी का नंबर आता है। जिसके 250 मेडिकल कॉलेज है। ख़ास बात ये है कि मोदी सरकार के आने के बाद आयुष सेक्टर में सभी देसी पैथियों की ओर लोगों को रूझान भी बढ़ा है।

छह साल में खुल 241 नए कॉलेज

सरकार ने पिछले 6 सालों में आयुष सेक्टर में एजुकेशन के लिए नई पॉलिसी के तहत नए कॉलेजेस को खोलने के लिए बढ़ावा दिया है। पिछले 6 सालों में 241 नए आयुष कॉलेजेस खोले गए हैं। सबसे ज्यादा 156 आयुर्वेदिक कॉलेज इस दौरान खुल हैं, जबकि 14 यूनानी कॉलेजेस, 63 होम्योपैथिक कॉलेज भी इस दौरान खोले गए हैं।

दरअसल मोदी सरकार ने जबसे आयुष विभाग को मंत्रालय बनाया है, उसके बाद से ही इस सेक्टर में काफी बढ़ोतरी हुई है। जहां एक ओर इंडियन मेडिकल सिस्टम के लिए अलग से नेशनल कमीशन फॉर इंडियन सिस्टम ऑफ मेडिसन शुरु हुआ है। वहीं इसी तरह की होम्योपैथी और यूनानी के लिए भी अलग अलग विभाग और रिसर्च सेंटर बनाए गए हैं।

आयुष मंत्रालय के मुताबिक देश में कुल मिलाकर 717 आयुष कॉलेज हैं। इनमें से 241 कॉलेज तो 2014 के बाद ही खुले हैं। कुल 717 आयुष कॉलेजों में आयुर्वेद के 419 कॉलेज आयुर्वेद के हैं, जबकि इसके बाद होम्योपैथी के 250 कॉलेज हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.