Eggs : Benefit or Loss in Ayurveda : अंडे खाने से फायदा होता है या नुकसान? जानिए क्या कहता है आयुर्वेद

benefit or loss of eggs in ayurveda

benefit or loss of eggs in ayurveda

Eggs Benefits: अंडे खाने के फायदे पाने के लिए आपको इसे सही तरीके से खाना चाहिए right way to eat eggs, लेकिन क्या है अंडे खाने का सही तरीका?what is the right way to eat eggs जानेंगे इस आर्टिकल में…

Eggs according to ayurveda: साइंस science के मुताबिक अंडा इस दुनिया के सबसे हेल्दी फूड्स healthy foods में आता है, जिसे खाकर कई सारे हेल्थ बेनिफिट्स health benefits पाए जा सकते हैं. लेकिन क्या आयुर्वेद भी अंडों को फायदेमंद मानता है या फिर इसको लेकर आयुर्वेदिक एक्सपर्ट ayurved expert की अलग राय है? इस जानकारी को पाने के लिए हमने काफी खोज की और अंत में आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. कृतिका उपाध्याय से आयुर्वेद के मुताबिक अंडों के महत्व के बारे में जानकारी मिली. आइए जानते हैं कि अंडे के फायदों को लेकर आयुर्वेद क्या कहता है और इसे खाने का कोई सही तरीका बताता है या नहीं.

Eggs according to Ayurveda: अंडे खाने को लेकर क्या कहता है आयुर्वेद?
आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. कृतिका उपाध्याय ने आयुर्वेद के मुताबिक भी अंडों को फायदेमंद बताया है. उनके मुताबिक अंडा एक सुपरफूड है, जिसे आयुर्वेद में एफ्रोडिसिएक यानी कामोत्तेजना बढ़ाने वाला और पौष्टिक आहार माना गया है. अंडा एक भारी फूड हैं, जिसका स्वाद मीठा है और जिसे खाने के बाद निम्नलिखित फायदे (Benefits of eating eggs) प्राप्त किए जा सकते हैं.

1. अंडे का सफेद भाग शरीर में वात, पित्त और कफ दोष को संतुलित करने में मदद करता है.
2. इसके अलावा अंडे का पीला भाग वात दोष को कम करने वाला और पित्त व कफ दोष को बढ़ाने में महत्वपूर्ण देखा जाता है.
3. कृतिका उपाध्याय के मुताबिक, अंडा एक हेल्दी फूड है, जिसे खाने से सेक्शुअल हेल्थ और हार्ट हेल्थ काफी बेहतर होती है.
4. पुरुषों के लिए अंडा काफी स्वास्थ्यवर्धक होता है. क्योंकि इसे खाने से लो स्पर्म काउंट और कमजोर यौनशक्ति को बढ़ाया जा सकता है.
5. वहीं, बच्चों के शारीरिक विकास को बेहतर बनाने में भी अंडा मदद करता है. क्योंकि इसमें भरपूर प्रोटीन और कैल्शियम होता है.

How to consume eggs: कैसे करना चाहिए अंडे का सेवन?
आयुर्वेदिक डॉ. कृतिका उपाध्याय के मुताबिक, हर किसी को अंडा सोच-समझकर खाना चाहिए, क्योंकि यह खाने और पचाने में हैवी होता है. जिस कारण कई लोगों को स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. जैसे-

  • अच्छा पाचन रखने वाले वात प्रवृत्ति के लोग रोजाना अंडा खा सकते हैं.
  • पित्त और कफ प्रवृत्ति के लोगों को अंडा संतुलित मात्रा में खाना चाहिए और खासकर अंडे का पीला भाग. वरना उन्हें पेट की दिक्कतें हो सकती हैं.

अंडे के साथ कभी ना खाएं ये चीजें (Dont )
अंडों को खरबूजा, बीन्स, चीज़, मछली, दूध, मीट और योगर्ट के साथ नहीं खाना चाहिए. क्योंकि, ऐसा करने से पेट में दर्द, जलन, पेट गैस आदि समस्याएं हो सकती हैं और लंबे समय तक ऐसा करना काफी नुकसानदायक हो सकता है.

अंडा खाने का सही तरीका क्या है? (Right Way )
आयुर्वेद कहता है कि अंडे खाने का सही तरीका उसमें मसाले मिलाकर खाना है. आप अंडों के साथ काला नमक, काली मिर्च जैसे मसाले मिला सकते हैं. ऐसा करने से अंडे आसानी से पच जाते हैं और आपको अंडे खाने के सभी फायदे मिलते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.