Shankhpushpi Benefits: बीमारियों के लिए ‘फायर’ है शंखपुष्पी , नाम सुनकर ‘पुष्‍पा’ वाला फ्लावर न समझें

shankhpushpi unlimited benefits

shankhpushpi unlimited benefits

‘शंखपुष्पी’ का नाम आपने शायद कभी नहीं सुना होगा लेकिन इसके कई फायदों के बारे में आपको जानना बेहद जरूरी है ताकि भविष्य में लाभ उठाया जा सके.

Convolvulus prostratus benefits : सिरदर्द एक आम बीमारी है, लेकिन इसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता क्योंकि, ये मानसिक रोग के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं. सिर दर्द तब शुरु होता है जब चिंता, तनाव, नींद समेत बहुत सी समस्या हावी हो जाती हैं. आज हम आपको ऐसे फूल के बारे में बताने जा रहे है जो आपकी इस समस्या का काफी हद तक समाधान कर सकता है.

शंखपुष्पी का आयुर्वेद में होता है इस्तेमाल

ये फूल है शंखपुष्पी. इस फूल के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. ये आयुर्वेद में बड़ी अच्छी जड़ी-बूटी के रुप में इस्तेमाल किया जाता है. शंखपुष्पी के  फूल से लेकर पत्ते और जड़ों का इस्तेमाल भी दवाइयों के लिए किया जाता है. इसके सेवन से याददाश्त तेज हो जाती है और एक्रागता बढ़ती है.

शंख के आकार के होते हैं पुष्प

शंखपुष्पी देसी जड़ी-बूटियों में एक अत्यंत गुणकारी और खास तौर से मस्तिष्क को बल देने वाली औषधि है. इसके फूल शंख की आकृति के होते हैं, इसलिए इसे शंखपुष्पी कहते हैं और बोलचाल की भाषा में शंखाहुली भी कहते हैं. आयुर्वेदिक ग्रंथों में शंखपुष्पी की बहुत तारीफ की गई है.

तीन रंगों का होता है पौधा

वैसे तो ये तीन रंग के पौधों में आता है- लाल, नीला और सफेद, लेकिन सफेद फूलों वाले शंखपुष्पी के पौधे को सबसे अच्छा माना जाता है. इसे याददाश्त  में सुधार और कंसन्ट्रेशन बढ़ाने में मददगार माना जाता है. इसके अलावा भी शंखपुष्पी के बहुत से फायदे होते हैं.

भूख बढ़ाने के लिए मददगार

शंखपुष्पी को भूख को बढ़ाने में मददगार माना जाता है. अगर आपको भूख नहीं लगती है तो आप शंखपुष्पी का सेवन जरूर करें. इसके नियमित इस्तेमाल से आपको फायदा जरूर होगा. इसमें भूख और पाचन उत्तेजक के गुण होते हैं, जिससे भूख में सुधार करने में मदद मिलती है.

मानसिक रोगियों के लिए शंखपुष्पी सीरप फायदेमंद

जो लोग मानसिक कमजोरी, मानसिक कार्यभार या मानसिक तनाव के कारण हमेशा सिरदर्द की शिकायत करते हैं उनके लिए शंखपुष्पी सीरप अधिक लाभकारी माना जाता है. ये  मस्तिष्क को शक्ति प्रदान करती है और नसों को शांत करती है, जिससे सिरदर्द की समस्या में राहत मिलती है.
 

डायबिटीज के रोगियों के लिए शंखपुष्पी वरदान

डायबिटीज के रोगियों  के लिए शंखपुष्पी किसी वरदान से कम नहीं है. अगर आप अपनी डायबिटीज को काबू में रखना चाहते हैं तो आपको नियमित रूप से शंखपुष्पी का सेवन जरूर करना चाहिए. आप 2-4 ग्राम शंखपुष्पी के चूर्ण को मक्खन या पानी के साथ सुबह शाम पी लें. आप देखिएगा इसके नियमित सेवन से डायबिटीज कंट्रोल में आ जाती है.

बालों के लिए भी औषधि है शंखपुष्पी

शंखपुष्पी को बालों के लिए भी बहुत अच्छा माना जाता है. इसके इस्तेमाल से बालों में चमक आती है और बाल बढ़ने भी लगते हैं. बालों को बढ़ाने के लिए आप जड़ समेत इसके पूरे पौधे को पहले पीस लें और फिर सिर पर इसका लेप लगा लें. इससे आपको फायदा मिलेगा.

हाई ब्ल्ड प्रेशर की समस्या से भी छुटकारा

शंखपुष्पी को रोजना एक गिलास पानी के साथ लेने पर हाई ब्ल्ड प्रेशर की समस्या से भी छुटकारा मिलता है. ये रक्त संचार को ठीक कर दिल को ठीक तरीके से काम करने में मदद करता है. शंखपुष्पी फूल भारत के कई जगहों पर आसानी से पाया जाता है. हर जगह इसे अलग-अलग नाम से जाना जाता है. जैसे हिंदी में शंख पुष्प, शंखाहुली, कौड़िल्ला, बांग्ला में शंखाहुली, मराठी में संखोनी, गुजरती में शंखावली, कन्नड़ में शंखपुष्पी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.