Healthy food Habits: फल खाने से नहीं, सही समय पर खाने से मिलता है पूरा लाभ

eating fruits on right time

eating fruits on right time

Benefits of eating fruits : आयुर्वेद के अनुसार, फलों को सही समय पर खाने से ही आपको इसका पूरा फायदा मिलता है. जानें क्या है फलों को खाने का सही समय.

Healthy Eating Habits: आयुर्वेद (Ayurveda) में खान-पान को लेकर कई नियम बताए गए हैं, जो आपकी सेहत को फायदा पहुंचाते हैं. इसी तरह फलों को खाने का भी सही समय (right time) बताया गया है. फल (Fruits) विटामिन और मिनरल्स (vitamins and minerals) के सबसे अच्छे सोर्स में से एक हैं और अगर आप दिन में कम से कम एक या दो बार फल खाते हैं, तो ये आपको फायदा पहुंचाता है. 

फलों को खाने का सही समय (right time to eat fruits)

फल वजन घटाने में मददगार हैं और रोजाना सेवन से कई बीमारियों का जोखिम कम होता है. आयुर्वेद के अनुसार, फलों को सही समय पर खाने से ही आपको इसका पूरा फायदा मिलता है. अगर आप सूर्यास्त (sunset) के बाद फल खाते हैं तो इसका उतना फायदा आपको नहीं मिलेगा.

ऐसा माना जाता है कि अगर आप सूरज के डूबने के बाद फल खाते हैं, तो ये आपको फायदा नहीं नुकसान पहुंचाता है.

बैक्टीरिया बढ़ने लगते हैं (risk of bacteria)

सूर्यास्त से पहले फल खाने से डाइजेशन के लिए पूरा वक्त मिलता है. इससे पाचन तंत्र भी मजबूत रहता है. वहीं दिन में फल खाना आपको कई तरह के रोगों से भी बचाता है. अगर आप सूरज ढलने के बाद फल खाते हैं तो इस समय वातावरण में नमी ज्यादा होती है और ये नमी फलों में भी आने लगती है. इससे बैक्टीरिया बढ़ने लगते हैं.

भोजन की प्रकृति में बदलाव 

ये बैक्टीरिया जब आपके पेट में जाते हैं, तो आपको नुकसान पहुंचाते हैं. आयुर्वेद के अनुसार, सूर्यास्त के बाद भोजन की प्रकृति में बदलाव होता है. इससे फलों में मौजूद पोषक तत्व नष्ट होने लगते हैं. इसलिए आपको सूर्यास्त के बाद फल खाने से बचना चाहिए.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य मान्यताओं पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. ayurvedindian इन नुस्खों की पुष्टि नहीं करता है.)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.