Ayurvedic Anesthetic injection: जल्द ही मिल सकता है दुनिया की पहला आयुर्वेदिक एनेस्थेटिक इंजेक्शन

Date:

Ayurvedic Anesthetic injection:आयुर्वेद में बड़ी खोज सामने आई है अभी तक सर्जरी में एनेस्थिसिया के लिए आयुर्वेद में कोई मेडिसन नहीं  थी, जोकि मरीज को  बेहोश कर पाए। लेकिन अब ऐसी मेडिसन की खोज की गई है जो कि आने वाले समय में एनेस्थीसिया के लिए स्वदेशी  आयुर्वेदिक मेडिसन होगी।

पूरी रिसर्च नीचे लिंक पर क्लिक कर पढ़ें…

https://www.dovepress.com/getfile.php?fileID=88483

हर्षा22 (Harsha22) नाम के इस इंजेक्शन का प्रयोग फिलहाल  चुहों  पर किया गया है। इस दवा में लौंग, जायफल,अतीस, बच्छनाभ और जटामासी (Syzygium aromaticum, Myristica fragrans, Aconitum heterophyllum, Aconitum chasmanthum and Nardostachys jatamansi) शामिल हैं। इनके एक्ट्रैक्ट को निकालकर इंजेक्शन बनाया गया है। जोकिं  सफल रहा है।

दरअसल जब आयुर्वेद के चिकित्सकों को सर्जरी करने का अधिकार दिया गया तो उस समय मॉडर्न मेडिसिन के डॉक्टर्स ने  इसका काफी विरोध किया था, एक बड़ा कारण इसमें एनेस्थीसिया की मेडिसन को बताया जा रहा था, उस समय कहां गया था की आयुर्वेद के चिकित्सक मॉडर्न एनएसथीसिया की दवा का ही प्रयोग करेंगे। इसके बाद पंकजा कस्तूरी हर्बल रिसर्च फाउंडेशन (https://www.pankajakasthuri.in/about-pankajakasthuri) ने हर्बल बेस एनेस्थिसिया एजेंट को विकसित किया, जोकि आयुर्वेदिक डॉक्टर को  सर्जरी करने में मदद करेगा। फिलहाल इस दवा का उपयोग  चूहों पर सफल रहा है, जल्दी इसको  इंसानों पर भी प्रयोग किया जाएगा।

आयुर्वेद में पीएचडी, एमडी डॉ. रवि ढालिया ने इस इंजेक्शन के बार में कहा कि चूहों पर बेहोशी के लिए हर्षा22 का इस्तेमाल किया गया जोकि 90 मिनट तक काफी कारगर रहा, अब आयुर्वेद की अपना एनेस्थिया इंजेक्शन होगा, जोकि  #lignocaine को रिप्लेस कर सकेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

आयुर्वेद के मशहूर लेखक, चिकित्सक और शिक्षक डॉ. एल महादेवन का निधन

आयुर्वेद चिकित्सा (Ayurveda) में देश विदेश में मशहूर डॉ....

भारतीय न्याय संहिता में आयुर्वेद और पारंपरिक डॉक्टर्स के साथ हुआ अन्याय

बेशक मोदी सरकार के राज में पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों...

Thyroid को जड़ से खत्म करने के लिए अपनाएं आयुर्वेद और योग

आज के मार्डन समय में लोगों को बीमारियों से...