Almonds: जानिए बादाम खाने का सही तरीका, छीलकर या बिना छीले 

Date:

Right way to eat almonds : बादाम (Almonds) काफी पॉष्टिक आहार होता है. माना जाता है कि बादाम खाने से दिमाग तेज होता है. कई लोग रेगुलर बादाम का सेवन करते हैं. आयुर्वेद के अनुसार बादाम मीठे बादाम खाने से वात दोष शांत होता है. इसके अलावा ये ऊतकों को मजबूत रखने के साथ स्किन को जवां बनाए रखता. क्या आप जानते हैं बादाम खाने का सही तरीका क्या है? कई लोग बादाम को छीलकर खाते हैं, वहीं कुछ लोग इसको दूध या पानी में भिगोकर खाते हैं. लेकिन बादाम को खाने का सही तरीका क्या है ये हम आपको बताने जा रहे हैं.

भिगोकर और छीलकर ही खाने चाहिए बादाम

आपको ऑर्गैनिक बादाम खरीदने चाहिए. चूंकि बादाम का छिलके का पाचन मुश्किल होता है इसलिए आयुर्वेद में बादाम भिगोकर छिलका निकालकर बादाम खाने की सलाह दी गई है. बादाम को छीलकर खाने से ये अच्छे से पच जाते हैं. बादाम को ऐसे खाने से उसमें छिपे सभी पोषक तत्व शरीर को लगते हैं. बता दें,  बादाम विटामिन ई, जिंक, कैल्शि‍यम, मैग्नीशि‍यम और ओमेगा 3 फैटी एसिड का बेहतरीन स्त्रोत है.

सूखे बादाम खाने से बढ़ती है पित्त की मात्रा

बादाम को बिना भिगोए और छीले बगैर खाने से खून में पित्त की मात्रा बढ़ जाती है. बादाम खाने का सबसे बेस्ट तरीका है उसे गुनगुने पानी में भिगोकर रात भर के लिए रख दें और सुबह छीलकर खा लें. बादाम के साथ आप किशमिश और खजूर भी खा सकते हैं. आप एक दिन में करीब 10 बादाम खा सकते हैं.

खाली पेट नहीं खाने चाहिए बादाम

खाली पेट कभी बादाम नहीं खाने चाहिए. खाली पेट बादाम खाने से पित्त बढ़ता है और पाचन संबंधी समस्याएं हो जाती हैंअगर खाली पेट हैं तो सब्जियों और फल के साथ बादाम खा सकते हैं.

बादाम के छिलके में होता है टैनिन

बादाम के छिलके में टैनिन होता है जो पोषक तत्वों को अवशोषित होने से रोकता है. जब आप बादाम भिगोते हैं तो छिलका आसानी से निकल जाता है. छिलका निकलने के बाद उसके सारे पोषक तत्व का लाभ आपको मिल जाता है.

ये होते हैं फायदे

बादाम एंटी ऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं. भीगे हुए बादाम के नियमित तौर पर सेवन करने पर वजन घटाने में भी मदद मिलती है. इसके अलावा भीगे बादाम में विटामिन B17 और फोलिक एसिड भी पाए जाते हैं, जो कैंसर से सुरक्षि‍त रखने में मददगार हैं और ये शरीर में ट्यूमर की वृद्धि रोक सकता है. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

आयुर्वेद के मशहूर लेखक, चिकित्सक और शिक्षक डॉ. एल महादेवन का निधन

आयुर्वेद चिकित्सा (Ayurveda) में देश विदेश में मशहूर डॉ....

भारतीय न्याय संहिता में आयुर्वेद और पारंपरिक डॉक्टर्स के साथ हुआ अन्याय

बेशक मोदी सरकार के राज में पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों...

Thyroid को जड़ से खत्म करने के लिए अपनाएं आयुर्वेद और योग

आज के मार्डन समय में लोगों को बीमारियों से...