Headache part-1: सिरदर्द से परेशान हैं तो आयुर्वेद अपनाएं, सिरदर्द को जड़ से मिटाएं

0
control anger

हर बात पर आता है गुस्सा तो आयुर्वेद के जरिए करें इलाज

सिरदर्द और आयुर्वेद को लेकर ayurvedindian.com एक सीरिज चलाने जा रहा है, जिसमें हम अलग अलग आयुर्वेद के डॉक्टर्स और योगाचार्यों से सिरदर्द को भगाने के उपाय पर बताएंगे...

सिरदर्द एक ऐसी समस्या है, जो बहुत सारे लोगों को अक्सर परेशान करती रहती है। सिरदर्द की वजह से बहुत सारे लोगों को उल्टी और चक्कर आना जैसी समस्याएं भी हो जाती है, थोड़ी सी तेज आवाज भी कई मामलों में बर्दाश्त से बाहर होने लगती है। लेकिन मॉडर्न मेडिसिन में सिरदर्द को लेकर कोई बहुत अच्छी दवा नहीं बनी है। दूसरी ओर आयुर्वेद में सिरदर्द जैसी समस्या से निजात पाने के लिए पूरी थेरेपी और दवाएं उपलब्ध है। आयुर्वेद में सिरदर्द होने पर योग की कुछ क्रियाएं आपके दिमाग को शांत कर सकती हैं, इससे आपका सर दर्द ठीक हो जाएगा।

सिर दर्द और तनाव के लिए आयुर्वेद में अश्वगंधा,  ब्रह्मी, जटामासी और शंखपुष्पी जैसी कई दवाएं और औषधि उपलब्ध है, जोकि आपके सिरदर्द को जड़ से मिटा सकते है। अगर आप लगातार सिर में बने दर्द से परेशान है तो आपको किसी आयुर्वेद के डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए।

क्यों होता है सिर में दर्द

अधिकांश सिरदर्द तनाव और अत्यधिक सोच विचार की वजह से होता है, अत्यधिक शारीरिक और मानसिक परिश्रम, अपर्याप्त मात्रा में पानी पीना और भूख, मोशन सिकनेस, अत्यधिक शोरगुल और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के अधिक प्रयोग के कारण सिरदर्द हो सकता हैं, कई बार नींद की समस्या भी सिर दर्द का कारण होती है। ऐसे में आयुर्वेदिक उपचार ना  सिर्फ आपके सिरदर्द को ठीक कर सकते हैं, बल्कि तनाव नींद ना आना और अन्य बीमारियां भी आयुर्वेद की  मेडिसिन से ठीक हो सकते हैं। अगर आपको दवाई नहीं लेनी है तो आप दिनचर्या को सही करके भी अपने सिरदर्द पर काबू पा सकते हैं। बस आपको एक अच्छे योगाचार्य से मिलकर अपनी दिनचर्या को सही करना है, इसमें अगर आप अपने डाइट प्लान को भी बेहतर कर देंगे तो रिजल्ट और भी अच्छे आएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.