Ananta Hemp Works: हेम्प स्टार्टअप अनंता हेम्प वर्कर्स में बड़ा निवेश

Date:

Ananta Hemp Works: अनंता विजया वेलनैस क्लिनिक (Ananta Vijya Wellness Clinic) के देशभर में बढ़ते प्रभाव को देखते हुए अब अनंता हेम्प वर्कस (Ananta Hemp Works) में देश की एक बड़ी FMCG के राजेश कुमार गुप्ता (Rajesh Kumar Gupta) ने निवेश किया है। आयुर्वेद में विजया का इस्तेमाल हज़ारों सालों से असाध्य रोगों के इलाज में किया जाता रहा है। ऐसे में अब भारत (India) में हेम्प आधारित उत्पादों को लेकर शुरु किया स्टार्टअप अनंता हेम्प देशभर में आयुर्वेदिक डॉक्टर्स के द्वारा “अनंता विजया वेलनैस क्लिनिक” खोल चुके है। जिसमें आयुर्वेद के डॉक्टर्स को इसमें जोड़ा जा रहा है।

विजया आधारित ब्यूटी, कॉस्मेटिक और न्यूट्रिशन प्रोडक्ट भी बेच रहे हैं। दो साल पहले शुरु हुआ ये स्टार्टअप अब तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। हाल ही में FSSAI ने भी हेम्प सीड आधारित प्रोडक्ट को खाने में इस्तेमाल की इज़ाजत दे दी थी।

अनंता हेम्प वर्कस के फाउंडर अभिनव भास्कर (Abhinav Bhaskar) और विक्रम बीर सिंह (Vikram Bir Singh) ने बताया कि हेम्प भारत में ये हज़ारों सालों से असाध्य रोगों में इस्तेमाल हो रहा है। हमारे प्राचीन साहित्य जैसे चरक संहिता, वेद, आदि में इसका उपयोग बताया गया है, साथ ही इसे सबसे चमत्कारी जड़ी बूटियों में से एक बताया गया है। कंपनी ने हेम्प आधारित तीन रेंज बाज़ार में उतारी हैं, जिनमें न्यूट्रिशनल रेंज, पर्सनल रेंज और हेम्प मेडिसनल रेंज शामिल हैं। उन्होंने बताया कि हेम्प मार्केट उम्मीद से बहुत ही तेज़ी से बढ़ रहा है। साथ ही मेडिसिन, न्यूट्रिशनल और पर्सनल केयर के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी हम आगे बढ़ेंगे। हम भारतीय प्राचीन आयुर्वेद के हेम्प को दुनियाभर में लेकर जाना चाहते हैं, ताकि दुनियाभर में इस प्राचीन पौधे का फायदा उठा सकें।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

दस सालों में आयुष क्षेत्र में हुआ बहुत बड़ा बदलाव, आयुष मंत्रालय की रिपोर्ट

आयुर्वेद और पारंपरिक भारतीय चिकित्सा (Ayurveda and traditional Indian...

Ayurved की पांच औषधियां जोकि रखेंगी आपको बीमारियों से कोसों दूर

आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति (Ayurveda medical system) में कुछ ऐसी...

सरकार आयुर्वेद के जरिए दूर करेगी लगभग एक लाख बच्चियों की कमज़ोरी

युवा बच्चियों में कमज़ोरी को दूर करने के लिए...