How to increase brain power during exam: दिमागी क्षमता बढ़ाने के लिए ये हैं आयुर्वेद की चमत्कारिक दवाइयां

Date:

How to increase brain power during exam: साल का फरवरी मार्च का समय बच्चों की परीक्षा का समय होता है। इस समय बच्चों और उनके अभिभावकों पर काफी प्रेशर होता है। लेकिन इस समय बच्चों को अपने सब्जेक्ट की तैयारियों में सबसे बड़ी परेशानी आती है कि उनको ध्यान लगाने और याद रखने में परेशानी होती है। इसके लिए हम बताते हैं कि आयुर्वेद में किस तरह से मानसिक शक्ति और ध्यान शक्ति को बढ़ाया जा सकता है।

प्राकृतिक तौर पर बहुत सारी ऐसी जड़ी बुटियां हैं, जोकि दिमाग को बेहतर फोकस और एक्टिव रखती है। आयुर्वेद में अक्सर इनका इस्तेमाल दिमागी बीमारियों के साथ साथ दिमाग को शांत करने के लिए किया जाता है। इनमें कुछ के बारे में हम नीचे बता रहे हैं।

ब्रामी (Brahmi Benefits For Memory)

आयुर्वेद के अनुसार ब्राह्मी बुद्धिवर्धक, पित्तनाशक, मजबूत याददाश्त, ठंडक देने के साथ शरीर से विषैले पदार्थों को भी बाहर निकाल देता है। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी-डायबिटिक गुण पाए जाते हैं। लेकिन ये सबसे ज्य़ादा दिमाग के सेल्स को एक्टिव कर देता है। अगर किसी आयुर्वेदाचार्या से सलाह लेकर बच्चे को देना शुरु किया जा सकता है। इससे बच्चों पर बहुत अच्छा असर देखा जाता रहा है।

अश्वगंधा (Asgwgandha Benefits For Memory)

अश्वगंधा बच्चों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। ये उनके दिमाग को तेज़ करता है। इसके सेवन से दिमाग के सेल्स एक्टिव होते हैं। साथ ही याद रखने की ताकत भी बढ़ती है। इसके साथ साथ ये बच्चों की भूख और लंबाई बढ़ाता है।

शंखपुष्पी (Shankhpushpi Benefits For Memory)

याददाश्त को बढ़ाने में शंखपुष्पी बहुत ही फायदेमंद होती है। हज़ारों सालों से भारतीय आयुर्वेद चिकित्सक इसका उपयोग दिमाग की तेज़ करने में कर रहे हैं। जिन छोटे बच्चों और बड़ों की भी जिनकी याददाश्त कमजोर है उनके लिए शंखपुष्पी एक बेहतरीन चमत्कारी दवा हो सकती है। इसके लगातार सेवन से निश्चित रूप से यारदाश्त को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। इससे बच्चों में फोकस भी बढ़ता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related